पीपीएफ अकाउंट कैसे खोले, पूरा प्रोसेस, PPF Account ब्याज दर, फायदे देखें - Informationbaba
Headlines

पीपीएफ अकाउंट कैसे खोले, पूरा प्रोसेस, PPF Account ब्याज दर, फायदे देखें

post office ppf account open

Post Office PPF Account:- आज के समय में आपको भारतीय बाजार में निवेश करने के लिए एक से एक तरीके मिलेंगे। लेकिन एक आम आदमी के लिए निवेश करने हेतु पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) एक बेहतरीन ऑप्शन है। PPF में निवेश करने पर आपको किसी भी जोखिम का खतरा नहीं है। क्योंकि सरकार द्वारा पब्लिक प्रोविडेंट फंड में निवेशकों को सुरक्षा प्रदान की जाती है। पीपीएफ में निवेश कर कोई भी आम नागरिक अच्छा मुनाफा प्राप्त कर सकता है। अगर आप भी निवेश करने की सोच रहे हैं तो आप PPF अकाउंट खुलवाने के कुछ सालों बाद लोन लेने और कुछ पैसे निकालने की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप भी पीपीएफ अकाउंट खोलना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Post Office PPF Account खोलने से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

Post Office PPF Account 2023

छोटे निवेशकों के लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) नियमित रूप से कम रकम निवेश कर लॉन्ग टर्म निवेश का एक अच्छा ऑप्शन है। साथ ही पीपीएफ ब्याज दर, सुरक्षा और टैक्स के मामले में एक बेहतरीन निवेश करने का ऑप्शन है। निवेशक को Post Office PPF Account खुलवाने के कुछ सालों बाद ही लोन लेने और कुछ पैसे निकालने की सुविधा मिलती है। किसी भी व्यक्ति को पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए कम से कम 500 रूपए अकाउंट में जमा करने होते हैं। एक वर्ष में आप अधिकतम 1 लाख 50 हजार रुपए तक निवेश कर सकते हैं। आप पीपीएफ खाता किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं।

PPF अकाउंट ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से खोला जा सकता है। इस अकाउंट को पोस्ट ऑफिस में खोले जाने की वहीं विशेषताएं ब्याज दर और नियम होते हैं जो सार्वजनिक या प्राइवेट बैंकों में खोले गए पीपीएफ अकाउंट के होते हैं। डाकघर में पीपीएफ अकाउंट खोलने की प्रक्रिया भी सामान ही है और इसके लिए समान ही दस्तावेज देने होते हैं।

डाकघर पीपीएफ खाता से जुड़ी खास बातें

  • Post Office PPF Account खोलने के लिए निवेशक को कम से कम 500 रूपए पीपीएफ अकाउंट में जमा करने होंगे।
  • 1 साल के भीतर PPF खाते में एक व्यक्ति केवल अधिकतम 1.5 लाख रुपए ही जमा कर सकता है।
  • PPF अकाउंट में 1 साल में 12 से अधिक किस्त जमा नहीं की जा सकती है। वर्तमान समय में पीपीएफ ब्याज दर 7.1 फीसदी प्रति वर्ष हैं। जो 1 जनवरी 2018 से प्रभावी है।
  • इस अकाउंट में जमा राशि पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री होता है।
  • डाकघर पीपीएफ खाते में जमा राशि का इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C में डिडक्शन क्लेम किया जा सकता है।
  • अनिवार्य के मामले में पीपीएफ अकाउंट को 5 साल से पहले बंद नहीं किया जा सकता है।
  • ऑनलाइन पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए व्यक्ति का बैंक में सेविंग अकाउंट होना चाहिए। और नेट बैंकिंग की सुविधा चालू होनी चाहिए।
  • Post Office PPF Account के लिए संबंधित व्यक्ति का मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक होना आवश्यक है।

पोस्ट ऑफिस PPF Account खोलने के लाभ

  • डाकघर पीपीएफ खाता खोलने से ब्याज दर के साथ अन्य बचत योजना और बैंक एफडी की तुलना में तुलनात्मक रूप से अधिक है। वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के लिए वर्तमान ब्याज दर 7.1% हैं।
  • यह सरकार द्वारा समर्थित बचत योजना है इसलिए आप लंबी अवधि के लिए निवेश कर सुरक्षित निवेश का आनंद प्राप्त कर सकते हैं।
  • PPF में 1 वर्ष के न्यूनतम निवेश 500 रूपए उन लोगों के लिए अच्छा हैं जो एक बड़ी राशि का निवेश नहीं कर सकते हैं।
  • Post Office PPF Account आप डाकघर में चेक या नगद जो भी सुविधाजनक हो उस के माध्यम से खोल सकते हैं।
  • PPF खाते की मैच्योरिटी की अवधि 15 वर्ष की होती है। चाहे तो आप मूल मेच्योरिटी तिथि तक पहुंचने के बाद नए योगदान के साथ इसे बढ़ा सकते हैं।
  • आपको पीपीएफ खाते में नॉमिनेशन सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • समय से पहले पीपीएफ खाते में विड्रोल की अनुमति होती है। लेकिन 5 साल के निरंतर निवेश के पूरा होने के बाद ही अनुमति प्राप्त होगी।
  • तीसरे फाइनेंशियल वर्ष से ही निवेशक लोन सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • विशेष परिस्थितियों में समय से पहले PPF खाते को बंद करने की सुविधा भी उपलब्ध की गई है।
  • Post Office PPF Account ऑफलाइन खोलने की प्रक्रिया

    • डाकघर में ऑफलाइन पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी इंडिया पोस्ट ऑफिस जाना होगा।
    • वहां जाकर आपको पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए  ppf-form प्राप्त करना होगा।
    • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी को दर्ज करना होगा।
    • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको आवश्यक केवाईसी दस्तावेजों की फोटो कॉपी के साथ फॉर्म को भारतीय डाकघर में जमा करना होगा।
    • अकाउंट खोलने के लिए आपको ड्राफ्ट/चेक (न्यूनतम 100 रूपए) का उपयोग करके प्रारंभिक राशि भी जमा करनी होगी। हालांकि आप न्यूनतम वार्षिक योगदान पर 500 रूपए भी निवेश कर सकते हैं।
    • इसके बाद डाक द्वारा आपका Post Office PPF Account एक्टिव हो जाता है तो खाते के लिए आपको एक पासबुक जारी की जाएगी। जो आपको प्रदान की जाएगी।
    • इस पासबुक में आपका पीपीएफ अकाउंट नंबर, बैलेंस राशि आदि सहित अकाउंट संबंधित जानकारी दी गई होती है।
    • इस प्रकार आप आसानी से पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।

    पोस्ट ऑफिस PPF Account ऑनलाइन खोलने की प्रक्रिया

    • सबसे पहले आपको डीओपी इंटरनेट बैंकिंग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
    • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
    • अब आपको होम पेज पर अपने बैंक अकाउंट में लॉगिन करने के लिए User ID और Verification कोड दर्ज करना होगा।
    • इसके बाद आपको Login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
    • क्लिक करते ही आपके सामने पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए दो ऑप्शन दिए गए होगे।
    • जिसमें आपसे पूछा जाएगा कि आप खुद के लिए अकाउंट खोल रहे या किसी नाबालिग के नाम पर अकाउंट खोलना चाहते हैं। आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा जिसके अनुसार आप अकाउंट खोलना चाहते हैं।
    • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
    • आवेदन फॉर्म में आपको मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज नहीं होगी।
    • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको जितनी राशि आप अकाउंट में डालना चाहते हैं उसे दर्ज करना होगा।
    • आपको एक ऑप्शन दिया गया होगा कि आप किस्तों में राशि डाले या डिपाजिट के तौर पर आपको उसका चयन करना होगा।
    • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा। जिसे आपको दर्ज करना होगा।
    • अब इसके बाद आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
    • सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपका पीपीएफ अकाउंट खुल जाएगा और आपको अपना पीपीएफ अकाउंट नंबर भविष्य के लिए सुरक्षित रखना होगा।

One thought on “पीपीएफ अकाउंट कैसे खोले, पूरा प्रोसेस, PPF Account ब्याज दर, फायदे देखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Simple and effective tools for website owners.